अपनी हर कामना के लिए पूजें अलग अलग बस्तु से बने शिवलिंग !! ~ Balaji Kripa

Saturday, 6 December 2014

अपनी हर कामना के लिए पूजें अलग अलग बस्तु से बने शिवलिंग !!

सोमवार के दिन शिव मंत्र जप-हवन-पूजन अभिषेक का बड़ा महत्व है। यदि मंदिर में पूजन इत्यादि करें तो ठीक अन्यथा घर पर भी पूजन कार्य किया जा सकता है। घर में पूजा के लिए आवश्यक है शिवलिंग । जिस बस्तु से शिव लिंग नहीं बन सकते तो उस बस्तु को मिट्टी में मिलाकर शिव लिंग बनाले ! नंदी को एक बड़े पात्र में रखें। शिव जी की जलाधारी का मुंह उत्तर दिशा की ओर रखते हुए पूजन प्रारंभ किया जा सकता है।
 

शिवलिंग कई प्रकार के उपयोग में लाए जाते हैं हर शिवलिंग का फल अलग-अलग है।
 

1. पार्थिव शिवलिंग- हर कार्य सिद्धि के लिए।

2. गुड़ के शिवलिंग- प्रेम पाने के लिए।

3. भस्म से बने शिवलिंग- सर्वसुख की प्राप्ति के लिए।

4. जौ या चावल या आटे के शिवलिंग- दाम्पत्य सुख, संतान प्राप्ति के लिए।

5. दही से बने शिवलिंग-‍ ऐश्वर्य प्राप्ति के लिए।

6. पीतल, कांसी के शिवलिंग- मोक्ष प्राप्ति के लिए।

7. सीसा इत्यादि के शिवलिंग- शत्रु संहार के लिए।

8. पारे के शिवलिंग- अर्थ, धर्म, काम, मोक्ष के लिए।



0 comments:

Post a Comment