समस्या आप की समाधान हमारे !! ~ Balaji Kripa

Saturday, 6 June 2015

समस्या आप की समाधान हमारे !!

आप लोगो दुआरा पूछे गए प्रश्नों के उत्तर हर व्यक्ति समस्या और परेशानी को अलग नजरिये से देखता है। आप भी दिक्कतों को अपने अनुसार देखते होंगे। यह ज्यादातर नकारात्मक ही होती है। आज अपने ऐसे प्रश्नों के बारे में जानिए जिनके बारे में जानकारी होने से आप समस्याओं को अलग ही तरीके से देखने लगेंगे।आप लोगो की समस्याओ के समाधान को हम अच्छे से अच्छे देने का प्रयास करते है !और अगर किसी के मन मै कोई सका उत्पन्न होती है तो आप हम से फिर पूछ सकते है हम को आप की प्रतिक्रिया का इंतजार रहता है प्रतिक्रिया अवश्य दे !!
हम क्या करे जिस जिस से अच्छी नीद आये और दिमागी उलझने खतम हो !
पूरे दिन में आपने जो भी अच्छे बुरे कार्य किये, सोने से पहले अपने प्रभु व माँ भगवती को अर्पण कर दो ! हे माँ हे ठाकुर जी ! आज पूरे दिन में हमसे जो भी अच्छे बुरे कर्म हुए हों,वो सभी कर्म हम आपको अर्पण करते हैं |इस से आप को हलका महसूस होगा अच्छी नीद आएगी !!
हम क्या करे कथा, प्रवचन, उपदेश, सत्संग आदि का आयोजन कराते रहते फिर भी कोई लाभ नहीं है !
कथा, प्रवचन, उपदेश, सत्संग आदि का आयोजन करना छोटी बात है, पर इन सभी को अपने जीवन में, अपने व्यवहार में उतारना बहुत बड़ी बात है |कथा सत्संग का जितना लाभ एक वक्ता या उपदेशक बनकर नहीं मिल सकता उससे दुगुना लाभ सच्चा श्रोता बनकर मिल सकता है |
हम भगबान को कैसे  पा सकते है !
जब तक आप भगवान से कोई सम्बन्ध नहीं बनाते, तब तक आप भगवान को पा नहीं सकते |
भगवान को पाना है, तो उनको अपना सम्बन्धी बनाओ !यदि एक बार उनसे सम्बन्ध बन गया, तो फिर चाहकर भी उन्हें छोड़ नहीं पाओगे !

हम अपने घर बालो से परेशान है घर बाले हम से क्या करे !
रोज तारीख बदलती है, रोज दिन बदलते हैं रोज अपनी उमर भी बदलती है रोज समय भी बदलता है,हमारे नजरिये भी वक्त के साथ बदलते हैं,बस एक ही चीज है जो नहीं बदलती और वो हैं हम खुद और बस इसी वजह से हमें लगता है कि अब जमाना बदल गया है, खुद को बदलो सब खुश रहेगे !
दुखो का अंत केसे हो सकता है !
विश्वास मानिए जिस दिन अपने जीवन की डोर 'माँ भगवती व ठाकुर जी' को सौंप दी,
उस दिन आपके दुखों का अंत निश्चित है !

0 comments:

Post a Comment