जुलाई से दिसंबर २०१५ का समय किस राशि वालों के लिए कैसा रहेगा। ~ Balaji Kripa

Friday, 10 July 2015

जुलाई से दिसंबर २०१५ का समय किस राशि वालों के लिए कैसा रहेगा।



इस साल के 6 महीने पूरे हो गए हैं। इन बीते हुए महीनों में कुछ लोगों को अच्छी सफलता मिली। कुछ नौकरी पेशा लोगों को तरक्की मिली। बिजनेस वालों को बड़े सौदे मिले। बड़ा फायदा भी हुआ। पिछले साल यानी 2014 में कुछ लोग परेशान थे, उनके लिए इस साल के शुरुआती 6 महीने अच्छे रहे।इसी तरह कुछ लोगों के लिए 6 महीनों का समय अच्छा नहीं भी रहा। कुछ लोगों को राशि अनुसार परेशानियां मिली। गुरु के मार्गी होने से अचानक नुकसान भी हुआ। सेहत से जुड़ी परेशानियां भी सामने आई। इस साल की शुरुआत वक्री गुरु में ही हुई, मार्च में शनि भी वक्री होने से बहुत से लोगों को नौकरी और बिजनेस में नुकसान हुआ। कुछ नौकरी पेशा लोगों का अनचाहा ट्रांसफर भी हुआ। कुछ बेरोजगारों को अभी तक नौकरी के लिए सफलता नहीं मिली। इस तरह 12 राशियों में से कुछ के लिए समय अच्छा था और कुछ के लिए बुरा। जानिए आने वाला समय यानी जुलाई से दिसंबर का समय किस राशि वालों के लिए कैसा रहेगा।
मेष - 15 जुलाई तक गुरु उच्च राशि में होने से विद्यार्थियों को इस समय अच्छी सफलता मिलेगी। पढ़ाई में मन लगा रहेगा। एक ओर शारीरिक परेशानी, तो दूसरी ओर कामकाज में शिथिलता के चलते आप परेशान हो सकते हैं। करियर में खुद को साबित करने के लिए आपको कुछ ज्यादा ही मेहनत करनी पड़ सकती हैं। जुलाई में शनि वक्री रहेगा, यानी टेढ़ी चाल से चलेगा। इस समय सेहत से जुड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता हैं। घर में किसी बड़े-बुजुर्ग का स्वास्थ्य गड़बड़ हो सकता है। इस समय में पैसा तो आएगा, लेकिन टिक नही पाएगा। जितनी तेजी से पैसा आएगा, उतनी ही तेजी से खर्च भी हो जाएगा।सितंबर और अक्टूबर का समय मेष राशि वालों के लिए सामान्य रहेगा। इस समय में संघर्ष और मेहनत तो करनी पड़ेगी, लेकिन धन लाभ भी होगा। मांगलिक कार्यों मे बिजी रहेंगे। इस समय चंद्र कुंडली के अनुसार मेष राशि वालों के चौथे और पांचवें भाव मे महत्वपूर्ण ग्रह रहेंगे। इस समय में अचानक धन लाभ के योग बन सकते हैं। इस समय आप बार-बार नई योजनाएं बनाएंगे। आप सफलता के लिए पूरी मेहनत करेंगे। नवंबर और दिसंबर में वाहन आदि भी सावधानी से चलाएं। आप इस समय कोई डील कर सकते हैं या किसी बंधन मे बंध सकते हैं। ये बंधन बिजनेस या नौकरी से जुड़ा हुआ हो सकता हैं, लेकिन हो सकता है यह करार भी ज्यादा लंबा नही चल पाए।
वृष - बड़े-बुजुर्गों का स्वास्थ्य आपकी चिंता का कारण बनेगा। आप बुजुर्गों की बहुत सेवा करेंगे। उनके आशीर्वाद और मार्गदर्शन लेकर ही आगे बढ़ें, तो आपको फायदा होगा। इसके अलावा बृहस्पति भी 14 जुलाई को सिंह राशि में आ जाएगा। इससे आपकी उन्नति व आगे बढ़ने के अवसर मिल जाएंगे। आपकी राशि से चौथी राशि में गुरु होने से आपको मान-सम्मान व कोई उपलब्धि मिल सकती है। जरूरी काम प्राथमिकता से हो जाएंगे, लेकिन इस समय में घर के किसी सदस्य का स्वास्थ्य आपकी चिंता का कारण बन सकता है। व्यापार व कारोबार में विस्तार की जो योजना आपने बनाई है, उसे शुरू करने का समय आ गया है, लेकिन इस समय आपको दुश्मनों से खासतौर से सावधान रहने की जरूरत है। इस समय ससुराल में आपका किसी से हल्का-फुल्का तनाव हो सकता है।सितंबर और अक्टूबर में झूठी गवाही से आप मुसीबत में पड़ सकते है। कोई पुराना रोग व कष्ट ख़त्म हो जाएगा। सेहत में सुधार होगा। शनि की स्थिति इस समय ठीक नहीं है। सप्तम स्थान में शनि होने से पारिवारिक सुख-शांति की दृष्टि से समय अच्छा नहीं है। पति-पत्नी व पिता-पुत्र में वैचारिक तालमेल का अभाव रहेगा। कुछ महत्वपूर्ण काम पूरे हो सकते हैं। नवंबर और दिसंबर में आपका जो पुराना विवाद चला आ रहा था, वह आपसी समझाइश से सुलझ जाएगा। इस समय वृष राशि के विद्यार्थियों की एकाग्रचित्तता में भी कमी आएगी, जिसका प्रभाव सीधा पढ़ाई पर पड़ेगा। हालांकि, राजकीय काम और जो आपके अटके हुए काम थे, वो थोड़ी बहुत कोशिश से ही पूरे हो जाएंगे। 
मिथुन - जुलाई -अगस्त में बीमारियां और दुश्मन ख़त्म होने के योग बन रहे हैं, लेकिन इस समय आपको खान-पान व अपनी आदतों का खास ध्यान रखना चाहिए। बिजनेस बढ़ाने की योजना शुरू होगी। आप जी तोड़ मेहनत करेंगे और उसका उतना ही परिणाम आपको मिलेगा। हालांकि, शुरूआत में आपको काम सफलता मिलेगी, लेकिन मेहनत से आप परिस्थितियों को अपने पक्ष में बना ही लेंगे। सितंबर और अक्टूबर में नौकरी में स्थायित्व आ सकता है। बॉस व अधिकारी इस समय आप पर मेहरबान रहेंगे। हालांकि, सहकर्मी जरूर जलन से आपके विरूद्ध कोई गुप्त योजना या षडयंत्र बना सकते हैं, लेकिन आपका कुछ भी नही बिगाड़ पाएंगे। इस समय धर्म-कर्म व लोक कल्याण की भी भावना मन में रहेगी व आप उसके लिए खर्च भी करेंगे।नवंबर और दिसंबर में राहु-केतु की स्थिति से शारीरिक और मानसिक रूप से आप खुद को स्वस्थ एवं प्रसन्न रखेंगे। जमीन और जायदाद संबंधी कोई लेन-देन इस समय हो सकता है। वाहन पर भी खर्चा होने के योग बन रहे हैं। आर्थिक दृष्टि से ये समय आपके लिए अच्छा रहेगा। 
कर्क - 14 जुलाई के बाद बृहस्पति सिंह राशि में आ जाएगा। साल के बीच के दिनों में पढ़ाई में अच्छे रिजल्ट मिलेंगे, लेकिन अब आपको और अच्छे परिणाम भी मिल सकते हैं। इस समय कानूनी झमेलों से थोड़ा-सा दूर ही रहें। इस समय आपका रुका हुआ पैसा वापस आ सकता है। इस समय धन लाभ के योग बन रहे हैं। अगस्त और सितंबर में मंगल आपकी राशि में रहेगा और नीच का हो जाएगा। इससे आपको कर्जा लेना पड़ सकता है। आपके स्वास्थ्य में गिरावट हो सकती हैं। सोचे हुए काम पूरे होने में परेशानियां आ सकती हैं। इस समय में आर्थिक स्थिति भी कुछ गड़बड़ हो सकती है। इस समय किसी को उधार पैसा देने से बचें। आजीविका की स्थितियां असंतोषजनक हो सकती है। अक्टूबर और नवंबर में मंगल धन भाव में होने से कामकाज में उन्नति के लिहाज से आप आगे बढ़ेंगे।मानसिक, शारीरिक एवं सामाजिक जीवन में महत्वपूर्ण परिवर्तन होंगे तथा कार्यक्षेत्र में आपको ख़ास उपलब्धियां हासिल होगी। आर्थिक दृष्टि से भी आप सुदृढ़ व सक्षम रहेंगे। इस समय मेहनत ज्यादा करनी पड़ेगी। दिसंबर में आपको मेहनत खूब करनी पड़ेगी व समय-समय पर उसका नतीजा भी आपको मिलेगा। राहु पराक्रम स्थान यानी तीसरे भाव में है, इसलिए कभी-कभी भाइयों से बोलचाल व तनाव हो सकता है। इस दौरान दुश्मनों और उनके षड्यंत्रों से आपको विशेष रूप से सावधान रहने की जरूरत है। कर्क राशि के लोग भावना प्रधान होते हैं और भावुकता में आकर अक्सर गलत निर्णय ले सकते हैं। इस समय महत्वपूर्ण निर्णय सोच समझकर करें। केतु भाग्य स्थान में होने से किस्मत का साथ कुछ काम मिलेगा। तीसरे भाव में राहु की स्थिति के कारण किसी पर भी भरोसा आपके नुकसान का कारण बन सकता है। साक्षात्कार व इंटरव्यू देते समय आत्मविश्वास से भरपूर रहेंगे। कारोबार व नौकरी में आप मेहनत से लक्ष्यों को हासिल कर ही लेंगे। व्यापार में उदारवादी दृष्टिकोण, लचीला रूख आपके नुकसान का कारण बन सकता है। अजनबी व्यक्तियों पर भरोसा नही करें। दूसरों की आलोचना से बचे। 
सिंह - 14 जुलाई के बाद बृहस्पति आपकी राशि में आ जाएगा। इस समय परिस्थितियां पहले से बेहतर रहेंगी। आप किसी जरूरतमंद रिश्तेदार या दोस्त की मदद कर सकते हैं। जुलाई और अगस्त में कामकाज के विस्तार को लेकर योजनाएं बन सकती है। हालांकि, उसका कोई ज्यादा लाभ आपको व्यावहारिक धरातल पर नहीं मिल पाएगा। भागीदार व पार्टनर की गतिविधि व हरकतों पर आपको नजर रखने की जरूरत है। भरोसे और विश्वास में आपके साथ धोखा हो सकता है। थोड़ा सावधान रहें। सितंबर-अक्टूबर में लेन-देन व रूपयों-पैसों के मामले में किसी पर भी भरोसा नही करें, व्यापार में कोई बड़ा ऑर्डर आपके हाथों से फिसल भी सकता है, सावधान रहें। कामकाज में किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं करें। नौकरी व कार्यक्षेत्र में लक्ष्यों को पूरा करने का दबाव बना रहेगा। लाख कोशिश व मेहनत करने पर भी आप बॉस व अधिकारियों को खुश नहीं कर पाएंगे। किसी मित्र या रिश्तेदार से संबंधित कोई अप्रिय समाचार या संदेश आपको मिल सकता है। बहुत मेहनत के बाद भी कोई सकारात्मक प्रतिफल नही मिल पाएंगे। इस समय घर के किसी बुजुर्ग के स्वास्थ्य को लेकर आपको अस्पताल के चक्कर तक काटने पड़ सकते है। नवंबर और दिसंबर इस समय सिंह राशि के लोग संतान को लेकर चिंतित थोड़ा टेंशन में रहेंगे। संतान को स्वतंत्र छोड़ दें, उस पर ज्यादा दबाव नहीं बनाएं नहीं तो इसके गंभीर परिणाम भी सामने आ सकते हैं। 
कन्या- 14 जुलाई के बाद गुरु राशि बदलेगा और बारहवें भाव में आ जाएगा। खर्चो में अप्रत्याशित रूप से बढ़ोत्तरी हो सकती हैं। व्यापार में भी कोई बड़ा ऑर्डर या अनुबंध कैंसिल हो सकता है। कामकाज में की गई लापरवाही के परिणाम घातक हो सकते हैं। जुलाई और अगस्त में कार्यक्षेत्र और नौकरी से जुड़े लक्ष्यों को पूरा करने का दबाव आप पर बना रहेगा। आप लक्ष्यों को समय रहते ही पूरा कर लेंगे। बॉस व अधिकारी आपके काम से खुश रहेंगे, जिसके चलते वे आपको कोई महत्वपूर्ण जिम्मेदारी व काम सौंप सकते है। भाग्योदय व उन्नति के उचित अवसर आपको मिल सकते हैं। महत्वाकांक्षाओं के हिसाब से आप चरम पर रहेंगे। सितंबर और अक्टूबर में किसी प्रभावशाली व्यक्ति से आपकी मुलाकात हो सकती है। कारोबार में भागीदार और अपने कर्मचारियों की गतिविधियों पर पूरी नजर रखें।नवंबर और दिसंबर में कन्या राशि वाले लोग बहुत व्यस्तताओं के बावजूद घर, परिवार, संतान को पूरा समय देंगे। इस समय घर में किसी नई वस्तु की खरीददारी कर सकते हैं। रोजमर्रा की घरेलू चीजों पर आपका ध्यान रहेगा। 
तुला - बृहस्पति 19 जुलाई तक दसवें भाव में उच्च राशि में है तो पराक्रम, प्रतिष्ठा व वर्चस्व बढ़ जाएगा। समाज में यश, कीर्ति व प्रतिष्ठा में इजाफा होगा। अगस्त में संपत्ति संबंधी मामले उलझ सकते है। पैतृक संपत्ति, बंटवारे का विवाद आदि में सफलता के आसार नही हैं। बातचीत से मामले सुलझाने की कोशिश करें।सितंबर और अक्टूबर में संतान के विवाह से संबंधित मामले आगे बढ़ सकते हैं। रिश्तेदार और दोस्त कठिन समय में आपकी मदद करेंगे। भागीदार व पार्टनर से कभी-कभी लेन-देन या हिसाब-किताब को लेकर मतभेद हो सकता है। घर के किसी बड़े-बुजुर्ग का स्वास्थ्य डांवाडोल हो सकता है। रिश्तेदार और दोस्त से जुड़ा कोई अप्रिय या अशुभ समाचार मिल सकता है। नवंबर और दिसंबर में धनहानि की संभावनाएं भी बन रही हैं। इस समय आपको दुश्मनों व विरोधियों से बार-बार चुनौति मिल सकती है। कुंडली के छठे भाव में केतु के प्रभाव के कारण षडयंत्र भी सक्रिय रहेंगे, साथ ही आपको दबे-छुपे दुश्मनों से भी सावधान रहना है। बृहस्पति व्यापार और कारोबार में हानि करवा सकता है। मधुमेह, रक्तचाप, ह्रदय संबंधी बीमारियों से परेशान लोगों को इस समय अपनी सेहत का ख़ास ध्यान रखना चाहिए। छोटी-सी लापरवाही के परिणाम घातक हो सकते हैं। 
वृश्चिक - जुलाई और अगस्त में व्यापार व कारोबार में महत्वपूर्ण निर्णय काफी सोच-विचार के बाद लेने की जरूरत है। पारिवारिक सुख-शांति और समृद्धि बनी रहेगी। 14 जुलाई के बाद बृहस्पति दसवें स्थान में रहेगा तो आपको व्यापार और कार्यक्षेत्र में फायदा हो सकता है। गुरु के शुभ प्रभाव से आपके रुके हुए काम एक बार फिर से गति पकड़ेंगे। अपने कार्यक्षेत्र में चल रही उठा-पटक का असर आप अपने निजी व पारिवारिक जीवन पर पड़ने नहीं देंगे। कुंडली में आपकी राशि में स्थित शनि की दृष्टि सप्तम स्थान में है। इसलिए कभी-कभी पति-पत्नी में आपसी तालमेल गड़बडा सकता है। वापस वह तालमेल सुधर भी जाएगा।वृश्चिक राशि के लोग एक बार जो मन में ठान लेते हैं, वह पूरा करके ही दम लेते है। आपकी यह संकल्प शक्ति आपको बहुत सारी नकारात्मकता के बावजूद सफलता दिला सकती है।सितंबर और अक्टूबर में कुंडली के पंचम स्थान में केतु की स्थिति से पारिवारिक सुख ठीक रहेगा, संतान से सहयोग और सुख मिलने के योग हैं। संतान आपकी आज्ञा का पालन भी करेगी। इस समय आपका आर्थिक पक्ष संतोषजनक तो नहीं रहेगा, लेकिन किसी भी प्रकार से आखिरी समय में आपको आर्थिक मदद मिल ही जाएगी। आर्थिक पक्ष को सुधारने के लिए आप लगातार कोशिश भी करते रहेंगे। आपकी राशि पर शनि का प्रभाव है जिस काम को लेकर आप काफी समय से कोशिश कर रहे थे उसमें काफी रुकावटें आएंगी।इस साल के आखिरी दिनों में यानी नवंबर और दिसंबर कई मुश्किलों का सामना भी करना पड़ सकता हैं। कठिनाईयां, परेशानियां, अनावश्यक भाग-दौड, कोर्ट केस, मुकदमेबाजी व मानसिक तनाव की स्थितियां बन सकती हैं, सावधान रहें। व्यवसाय में कामकाज के विस्तार को लेकर आप कोई योजना बनाएंगे, लेकिन इस साल योजना पर अमल कम ही हो पाएगा। संपत्ति संबंधित विवाद और बंटवारे का विवाद सुलझ सकता है। आप समझदारी से और विवेक का इस्तेमाल कर उदारता से विवाद को सुलझाएंगे। आपको अपने हक को छोडना भी पड़ सकता है। आप उसके लिए तैयार रहेंगे। माता-पिता व घर के बुजुर्गो का स्वास्थ्य जरूर खराब हो सकता है। उनके स्वास्थ्य को लेकर अस्पताल भी जाना पड़ सकता है। 
धनु - जुलाई और अगस्त इस समय आप बड़े ही मनोवैज्ञानिक तरीके से काम करेंगे। काम में चली आ रही उठा-पठक व उतार-चढाव का असर आपके पारिवारिक जीवन पर पड़ सकता है। आपकी राशि का स्वामी बृहस्पति है, जो न्याय व शासन क्षमता को बताता है, आप किसी के साथ अन्याय व अत्याचार सहन नहीं कर सकते। किसी के साथ अन्याय होता देख आप उसके खिलाफ आवाज उठा सकते हैं। इस समय आप लोगों की मदद करने में भी व्यस्त हो सकते हैं।सितंबर और अक्टूबर में संतान के करियर, पढाई व प्लेसमेन्ट, संबंधी चिंता रहेगी। इस समय आपका आर्थिक पक्ष संतोषजनक नहीं रहेगा, परन्तु किसी भी प्रकार आपको आखिरी समय में मदद मिल ही जाएगी। आर्थिक पक्ष को सुधारने के लिए आप कोशिश करते रहेंगे। कार्यक्षेत्र में जो विभागीय जांच या अन्य जांच आपके विरूद्ध चल रही थी, उसमें हालात व परिस्थितियां आपके पक्ष में बन सकती है। नवंबर और दिसंबर जिस काम को लेकर आप काफी समय से कोशिश कर रहे थे, उसके पूरे होने में कुछ रुकावटें आ सकती हैं। कई बार आप उम्मीद भी छोड़ देंगे। इस समय कठिनाइयां, परेशानियां और बेवजह की भाग-दौड़ हो सकती है। मानसिक तनाव की स्थितियां भी बन सकती हैं, सावधान रहें। किसी रिश्तेदार या मित्र से संबंधित कोई अप्रिय या अशुभ समाचार आपको मिल सकता है। 
मकर- जुलाई में सप्तम भाव का सूर्य रोजमर्रा के कामों को पूरा करेगा, लेकिन लाइफ पार्टनर से विवाद भी हो सकता है। जुलाई में छठा मंगल फिर से खर्च की स्थिति बनाएगा। इस समय शत्रुओं व विरोधियों से आपको बार-बार चुनौतियां मिलेगी, आप उन चुनौतियों का डटकर मुकाबला भी करेंगे। 14 जुलाई तक बृहस्पति की दृष्टि मकर राशि पर होने से तकनीकी विद्या से जुडे हुए विद्यार्थियों को शुभ व अनुकूल परिणाम मिल सकते हैं। संपत्ति की खरीददारी हो सकती है। मकर राशि के लोग साहसी और निडर होते हैं। कठिन से कठिन परिस्थितियों का सामना भी हिम्मत व साहस के साथ करते हैं। व्यापार व कारोबार की दृष्टि से ये समय फायदा देने वाला रहेगा। किसी रिश्तेदार या दोस्तों से संबंधित कोई अप्रिय संदेश आपको इस समय में मिल सकता है। अगस्त और सितंबर में कारोबार में आप नया प्रयोग कर सकते हैं। इस समय में आपको रोजमर्रा में कुछ परिवर्तन भी देखने को मिलेंगे। व्यापार में महत्वपूर्ण बदलाव भी इस समय हो सकते हैं। काम करने की शैली, व्यवहार और प्रदर्शन के तरीकों में बदलाव करेंगे। आत्म विश्लेषण का समय है। इस समय विद्यार्थियों को अच्छे परिणाम भी मिल सकते हैं। अक्टूबर और नवंबर परिवार के लोगों से आपको इस समय पूरा सहयोग मिलेगा। जीवनसाथी से संबंधों में मधुरता रहेंगी, लेकिन प्रेम-प्रसंगों के उजागर होने का विपरीत प्रभाव परिवार की स्थितियों पर पड़ सकता है। माता-पिता, घर के बुजुर्गों के अनुभवों का लाभ उनका आशीर्वाद आपको आगे बढ़ाने में सहयोग करेगा।दिसंबर यानी साल का आखिरी समय मकर राशि के विद्यार्थियों के लिए लाभप्रद स्थितियों को देने वाला है। जहां तक धन व आर्थिक स्थिति की बात है, इस समय आप काफी संतोषजनक स्थिति में रहेंगे। साल के आखिरी महीने में करियर व नौकरी में आपको बेहतर अवसर मिल सकते हैं। बॉस व वरिष्ठ अधिकारी आपके काम से खुश रहेंगे। प्रमोशन व पदोन्नति के योग भी इस समय बनेंगे।
 कुम्भ - जुलाई और अगस्त इस समय आप पर तनाव जरूर हावी हो सकता है, लेकिन आप बुद्धिमता और अनुभवी लोगों के सहयोग से लक्ष्य प्राप्त कर लेंगे। इससे बॉस व अधिकारी आपसे प्रसन्न होकर आपको महत्वपूर्ण पद आदि प्रदान कर सकते हैं। जुलाई के बाद घर परिवार को लेकर तनावपूर्ण स्थितियां बन सकती हैं, हालांकि जीवनसाथी से वैचारिक तालमेल बना रहेगा। छोटी-मोटी बातों को लेकर पति-पत्नी में अनबन होने के योग बन रहे हैं। इस समय नकारात्मक दृष्टिकोण की यदि बात करे तो आठवे स्थान में राहु के कारण शत्रु षडयंत्र हावी होंगे। हालांकि कोई आपका बुरा नहीं कर पाएगा, लेकिन आपको सतर्क रहना जरूरी है।सितंबर और अक्टूबर में पिता-पुत्र में वैचारिक मतभेद हो सकते हैं। घर के किसी बुजुर्ग सदस्य के स्वास्थ्य में गड़बड़ी होने के योग बन रहे हैं। सावधान रहें। इस समय आपका खर्चा बढ़ सकता है। संतान से प्रेम और अधिक बढ़ सकता है। इस समय व्यापार व कारोबार में उन्नति की संभावनाएं बन सकती हैं। आप कार्य विस्तार की जो योजनाएं बना रहे थे उन्हें लागू करें। नई तकनीकी, हुनर, विचार, मशीनरी आदि का प्रयोग कर आप अपने फायदे में बढ़ोत्तरी कर सकते हैं। नवंबर और दिसंबर में सामाजिक मान- प्रतिष्ठा व यश में बढ़ोत्तरी हो सकती है। इस समय पराक्रम में भी वृद्धि होगी। इस समय में आप बुद्धिमानी से कठिन काम भी निपटा लेंगे। राजकीय काम जो काफी समय से आपके अटके हुए थे, वो पूरे हो जाएंगे। साल के आखिरी दिनो में परिवार और गृहस्थी संबंधित तनावों से परेशान हो सकते हैं। इस समय कार्यक्षेत्र में उन्नति के लिए षडयंत्र या नई योजनाएं बना सकते हैं। 
मीन - जुलाई संतान से संबंधित कोई विशेष काम हो सकता है। संतान की शिक्षा, सगाई, विवाह, अध्ययन व करियर से संबंधित कोई महत्वपूर्ण निर्णय लिया जा सकता है। ये समय मीन राशि वाले लोगों के लिए अच्छा है। आसपास के लोगों से सहयोग मिल सकता है। इस समय रुका हुआ पैसा भी आपको मिल सकता है। पैसों से जुडी कई तरह की योजनाएं बनेंगी।अगस्तऔर सितंबर में व्यापार व कारोबार की स्थितियां आपके पक्ष में हो सकती हैं। बिजनेस बढ़ाने के लिए आप नए-नए प्रयोग कर सकते हैं। अपने काम करने के अंदाज, तरीके व हुनर में आप बदलाव कर सकते हैं। इससे बिजनेस में लाभदायक स्थितियां भी बन सकती है। इस समय आप लाटरी, जुआ, शेयर्स व सट्टे से दूर रहें। आपका पूरा फोकस किसी नए काम पर रहेगा।अक्टूबर और नवंबर राजकीय क्षेत्र में आपके जो मामले अथवा काम अटके हुए थे, उनमें परिस्थितियां तेजी से परिवर्तित हो रही है। किसी महत्वपूर्ण या प्रभावशाली व्यक्ति की मदद से आप अपने अटके हुए काम निपटा ही लेंगे। कोई संपत्ति, भूमि, भवन आदि की खरीदारी का कार्यक्रम बन सकता हैं। जीवन के महत्वपूर्ण कार्य इस समय आप पूरे कर सकते हैं। नौकरी व कार्यक्षेत्र में बॉस व अधिकारी आपके काम से संतुष्ट रहेंगे। आपको उन्नति के व आगे बढ़ने के अवसर मिल सकते हैं। सहकर्मियों का भाव भी आपके प्रति सहयोग का ही रहेगा। किसी नए काम की प्रवृत्ति रहेगी। भाग्य स्थान में शनि के प्रभाव के कारण आपको भाग्योन्नति के अवसर मिलेंगे। नया अवसर आपकी प्रतीक्षा कर रहा है। जो ऋण आपने ले रखा है, वो इस समय चूका देंगे। शत्रु व विरोधी परास्त होंगे।नवंबर - दिसंबर में उदारता के कारण व्यापार में नुकसान की स्थितियां बन सकती है। नौकरी व कार्यक्षेत्र में थोड़ी सी लापरवाही भी नुकसान दायक हो सकती है। आर्थिक क्षेत्र में आप जमकर मेहनत करेंगे। इस समय गुप्त शत्रुओं से सावधान रहें। नया वाहनादि खरीदने का विचार बन सकता है। किसी प्रभावशाली व्यक्ति से आपकी मुलाकात हो सकती है।

0 comments:

Post a Comment