क्या आप को पता है घर मै ये छोटे- छोटे उपाय करने से दूर होती है नकारात्मक ऊर्जा !! ~ Balaji Kripa

Thursday, 27 August 2015

क्या आप को पता है घर मै ये छोटे- छोटे उपाय करने से दूर होती है नकारात्मक ऊर्जा !!


यदि घर में कोई वास्तु दोष है तो सुख-समृद्धि संबंधी कार्यों में बाधाएं उत्पन्न हो सकती हैं। वास्तु दोष दूर करने के लिए कई प्रकार के उपाय बताए गए हैं। इन उपायों का पालन करने पर घर में सकारात्मक ऊर्जा बनी रहती है और कार्यों में आ रही परेशानियां दूर हो सकती हैं।
 
नमक के पानी से लगाएं पोछा !!

घर की नकारात्मक ऊर्जा को दूर करने के लिए घर में पोछा लगाते समय पानी में थोड़ा नमक मिला लेना चाहिए। इसके लिए समुद्री नमक यानी साबूत नमक (खड़ा नमक) इस उपाय के लिए श्रेष्ठ रहता है। इस उपाय से घर की नकारात्मक ऊर्जा खत्म हो जाती है। वातावरण की पवित्रता बढ़ती है।

बाथरूम में रखें साबूत नमक !!

घर के वास्तु दोष दूर करने के लिए ये उपाय भी किया जा सकता है। एक कटोरी में साबूत नमक भरें और इस कटोरी को बाथरूम में रखें। इस उपाय से भी नकारात्मक ऊर्जा दूर हो सकती है। समय-समय पर कटोरी का नमक बदलते रहना चाहिए।

गौमूत्र का छिड़काव करें !!

घर में समय-समय पर गौमूत्र का छिड़काव करते रहना चाहिए। मान्यता है कि जिन घरों ये उपाय किया जाता है, वहां सभी देवी-देवताओं की कृपा बनी रहती है। गौमूत्र की तेज गंध से वातावरण में मौजूद हानिकारक कीटाणु नष्ट हो जाते हैं और वास्तु दोषों के साथ ही नकारात्मक ऊर्जा भी बेअसर हो जाती है।

घर के बाहर बनाएं रंगोली !!

हर रोज सुबह-सुबह घर के बाहर रंगोली बनानी चाहिए। घर के अंदर और बाहर अच्छी तरह से साफ-सफाई करने के बाद घर के बाहर रंगोली बनाएं। रंगोली को बहुत ही शुभ माना जाता है और इससे महालक्ष्मी की प्रसन्नता भी प्राप्त हो सकती है।

इन पांचों का धुआं कुछ देर के लिए घर में फैलाएं !!

घर की नकारात्मक ऊर्जा को खत्म करने के लिए हर रोज घर में 5 चीजों का धुआं कुछ देर के लिए फैलाना चाहिए। ये पांच चीजें हैं लोबान, गुग्गल, कर्पूर, देशी घी और चदंन। गाय के गोबर से बना एक कंडा जलाएं और जब उसमें धुआं निकलना बंद हो जाएं, तब ये पांचों चीजें कंडे के अंगारों पर डाल दें। इसके बाद जो धुआं निकलेगा, उसे पूरे घर में फैलाएं। ये पांचों ही चीजें पवित्र मानी गई हैं और इनसे निकलने वाला धुआं घर का वातावरण पवित्र करता है। सूक्ष्म कीटाणु नष्ट होते हैं और वास्तु दोषों का असर खत्म होता है। सकारात्मक ऊर्जा बढ़ती है।

0 comments:

Post a Comment