क्या आप को पता है कोन सा ग्रह किस राशि मे उच्च और किस राशि नीच का फल देता है !! ~ Balaji Kripa

Thursday, 10 September 2015

क्या आप को पता है कोन सा ग्रह किस राशि मे उच्च और किस राशि नीच का फल देता है !!


कुंडली में जो ग्रह उच्च राशि या अपनी स्वयं की राशि में स्थित हों तो उससे सम्बन्धित दान नहीं करना चाहिए ! जो ग्रह कुंडली में नीच राशि हैं ,उनसे सम्बंधित वस्तुएं दान करें। नीच  ग्रह से सम्बन्धित दान कभी लेना नहीं चाहिए !
 

कुंडली  से जाने की कौन सा ग्रह किस राशी पर उच्च का होकर शुभ फल देता हें और किस राशी में नीच का होकर अशुभ फल देता हें !
 


सूर्य ग्रह मेष राशी में उच्च का होकर शुभ फल देता हें और तुला राशी में नीच का होकर अशुभ फल देता है !
 

चन्द्रमा ग्रह वृषभ राशी में उच्च का होकर शुभ फल देता हें और वृश्चिक में नीच का होकर अशुभ फल देता है !
 

मंगल ग्रह मकर में उच्च का होकर शुभ फल देता हें और कर्क में नीच का फल होकर अशुभ फल देता है !
 

बुध ग्रह कन्या में उच्च का होकर शुभ फल देता हें का और मीन में नीच का होकर अशुभ फल देता है !
 

गुरु ग्रह कर्क में उच्च का होकर शुभ फल देता हें और मकर में नीच का होकर अशुभ फल देता है !
 

शुक्र ग्रह मीन में उच्च का होकर शुभ फल देता हें और कन्या में नीच का होकर अशुभ फल देता है !
 

शनि ग्रह तुला में उच्च का होकर शुभ फल देता हें और मेष में नीच का होकर अशुभ फल देता है !
 

राहू ग्रह  मिथुन में उच्च का होकर शुभ फल देता हें  और धनु में नीच का होकर अशुभ फल देता है !
 

केतु ग्रह धनु में उच्च का होकर शुभ फल देता हें और मिथुन में नीच का होकर अशुभ फल देता है !
 

 कुंडली में जो ग्रह उच्च राशि  मे उस के लिए क्या दान नहीं करना चाहिए :-
 

सूर्य : लाल चंदन, लाल वस्त्र, गेहूं, गुड़, स्वर्ण, माणिक्य, घी , केसर का दान !
 

चंद्रमा : चांदी,चावल, सफेद चंदन, मोती, शंख, कर्पूर, दही, मिश्री का दान !
 

मंगल : स्वर्ण, गुड़, घी, लाल वस्त्र, कस्तूरी, केसर,  मसूर की दाल, मूंगा, ताम्बे के बर्तन का दान !
 

बुध : कांसे का पात्र, मूंग, फल, पन्ना, स्वर्ण का दान !
 

गुरु : चने की दाल, धार्मिक पुस्तकें, पुखराज, पीला वस्त्र, हल्दी, केसर, पीले फल का दान !
 

शुक्र : चांदी, चावल, मिश्री, दूध, दही, इत्र, सफेद चंदन का दान !
 

शनि : लोहा, उड़द की दाल, सरसों का तेल, काले वस्त्र, जूते व नीलम का दान !
 

राहु : तिल, सरसों, सप्तधान्य, लोहे का चाकू व छलनी व छाजला, सीसा, कम्बल, नीला वस्त्र, गोमेद का दान !
 

केतु : लोहा, तिल, सप्तधान, तेल, दो रंगे या चितकबरे कम्बल या अन्य वस्त्र, शस्त्र, लहसुनिया व बहुमूल्य धातुओं में स्वर्ण का दान !

2 comments:

  1. पंडित जी नीच ग्रह कोन से होते है

    ReplyDelete
  2. Kundaly se kaise Jane ke konsa grah neech ka hai aur konsa grah uchh ka hai, pls call me 9650024242

    ReplyDelete